भाकियू किसानों का एक मात्र ऐसा संगठन जो किसानों के हक की लड़ाई लड़ रहा है – ऋषिपाल अम्बावता

0
120

न्यूज़ एनसीआर, 26 दिसंबर-फरीदाबाद | भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) के राष्ट्रीय अध्यक्ष ऋषिपाल अम्बावता ने कहा देश का किसाना खुशहाल होगा तभी राष्ट्र खुशहाल होगा और भाकियू किसानों का एक मात्र ऐसा संगठन है, जो राजनीति से दूर हटकर सही मायने में किसानों के अधिकारों की लडाई लड रहा है, और इस लडाई को अब हम गांव-गांव जाकर और मजबूती से लडेंगे। इस अवसर पर उन्होने पलवल के गांव बागपुर में पहले एक किसान पंचायत को संबोधित किया और फिर तीन माह तक चलने वाली किसान संवाद यात्रा की शुरूआत की।

अम्बावता ने इससे पहले उन्होने अपने आवास पर पूरे हरियाणा के जिला अध्यक्ष व प्रदेश के सभी वरिष्ठ पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा यह यात्रा हरियाणा प्रदेश के सभी जिलों मेेंं जाएगी, और किसानों को उनके अधिकारों के प्रति जागरूक करने के लिए संवाद करेगी। उन्होने कहा इस यात्रा का आयोजन चलो गांव की ओर अभियान के तहत किया जा रहा है, ताकि जिन मांगों को भाकियू पिछले लम्बे समय से उठाती आ रही है, उनकी जानकारी प्रदेश के सभी किसानों को हो और वह इस लडाई में भाकियू का साथ दें।

अम्बावता ने कहा भाजपा सरकार यदि सही मायने में किसानों की हितैषी है, तो वह स्वामी नाथन रिर्पोट को लागू करे, किसानों का बिजली बिल और कर्ज माफ करे। जिन किसानों के पास 2 एकड़ जमीन है, उनको दस लाख तक का लोन सबसिडी के साथ दिया जाए। किसानों को बुढापा पेंशन 25 सौ रूपए दी जाए। किसानों को फसल का दाम भाकियू की मांगनुसार दिया जाए। इस अवसर पर भाकियू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बलविन्द्र सिंह बाजवा, प्रदेश अध्यक्ष शमशेर सिंह दहिया, महिला प्रदेश अध्यक्ष शालिनी मेहता, महासचिव सुनीता फागना, उपाध्यक्ष बीवा इन्डोरा, राष्ट्रीय प्रवक्ता अतर सिंह संधू, जिला पलवल अध्यक्ष ऋषिपाल चौहान, फरीदाबाद अध्यक्ष ज्ञानेन्द्र त्यागी, जींद से जगदीश राठी, गुरूग्राम अध्यक्ष सरूप सिंह कटारिया, मेवात अध्यक्ष अयूब खान, पानीपत अध्यक्ष जोगेन्द्र सिंह, झझर अध्यक्ष ओमवीर सिंह, कैथल अध्यक्ष सरदार जसविन्द्र सिंह, सिरसा अध्यक्ष दर्शन सिंह, करनाल अध्यक्ष दलवीर मट्टू, कुरूक्षेत्र अध्यक्ष सुखदेव सिंह, युवा किसान नेता प्रवीन चौधरी व देवीराम सहित सैकडों किसान मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here