पलवली गांव में हुई 36 बिरादरियों की महा पंचायत, आरोपी परिवार का हुक्का पानी बंद

0
118

न्यूज़ एनसीआर, 24 दिसम्बर-फरीदाबाद | फरीदाबाद के गांव पलवली में पांच लोगो की गोली मारकर ह्त्या करने के मामले में आरोपी पक्ष के सदस्यों की घर वापिसी को लेकर गांव में 36 बिरादरी की महापंचायत की गई, जिसमें पंचों ने फेंसला लेते हुए कहा है कि आरोपी पक्ष का कोई भी सदस्य गांव पलवली में नहीं आयेगा। इसका मतलब पंचों ने पूरे परिवार का गांव से हुक्का पानी बंद कर दिया है। पंचायत में पीडित पक्ष के सदस्य ने गुस्से में सरदारी के सामने कहा कि अगर आरोपी पक्ष का कोई व्यक्ति गांव में आया तो खून खराबा हो जायेगा और गांव कभी हरियाणा के नक्शे पर भी नहीं दिखाई देगा।

करीब तीन माह पहले ग्रेटर फरीदाबाद के गांव पलवली में एक ही परिवार के पांच सदस्यों को सरपंच परिवार ने गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया था, जिस मामले में पुलिस ने कार्यवाही करते हुए करीब दो दर्जन से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार था जो मामला अभी भी कोर्ट में चल रहा है। हाल ही में कुछ दिन पहले आरोपी परिवार के कुछ सदस्य गांव पलवली आये थे जिनके आते ही पीडित परिवार ने हंगामा कर दिया था, इस को लेकर आज गांव पलवली में 36 बिरादरी की महापंचायत की गई जिसमें आसपास के दर्जनों गांव के पंचों ने हिस्सा लिया। पंचायत में आरोपी परिवार के सदस्यों को अपनी जीविका चलाने के लिये गांव वापिसी पर चर्चा की गई जिस पर सभी पंचों ने मोहर लगाते हुए कहा कि अगर आरोपी परिवार के सदस्य गांव में आये तो फिर से दोनों पक्षों में झगडा हो सकता है इसलिये पंचों ने फेंसला लिया कि आरोपी पक्ष का कोई भी सदस्य कोर्ट के अंतिम फैंसले तक गांव में नहीं आयेगा।
पंचायत में मौजूद रहे पीडित पक्ष के एक सदस्य ने उग्र होते हुए पंचों को कहा कि उनकी मांग है कि आरोपी पक्ष का कोई भी व्यक्ति गांव में नहीं आयेगा, अगर गांव में आया तो खून खराब हो जायेगा और इस बार बदले की आग में गांव भी नक्शे से मिट सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here