हरियाणा की छोरी मानुषी ‌छिल्लर बनी मिस वर्ल्ड

0
101

न्यूज़ एनसीआर, 19 नवंबर-फरीदाबाद | हरियाणा के झज्जर की छोरी मानुषी ‌छिल्लर मिस वर्ल्ड बनी हैै।भारत का 17 साल का लंबा इंतजार खत्म किया। इससे पहले साल 2000 में प्रिंयका चोपड़ा मिस वर्ल्ड बनी थी। मानुषी छिल्लर ने इस खिताब को जीतने के साथ ही पूरे भारत का नाम दुनिया में रोशन किया है।

मिस वर्ल्ड’ बनना मानुषी के बचपन का सपना था। एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा, ‘बचपन में, मैं हमेशा से इस कॉम्पिटिशन में हिस्सा लेना चाहती थी और मुझे यह कभी नहीं पता था कि मैं यहां तक पहुंच जाऊंगी। अब मिस वर्ल्ड का खिताब जीतना केवल मेरा ही नहीं बल्कि मेरी फैमिली और दोस्तों का भी सपना बन गया था।’ मिस वर्ल्ड में जाने से पहले मानुषी समाजसेवा के कार्यों से भी जुड़ी रही हैं।

मानुषी छिल्लर 67वीं मिस वर्ल्ड हैं। वह मेडिकल की स्टूडेंट हैं और कार्डिएक सर्जन भी बनना चाहती हैं। मानुषी को पैराग्लाइडिंग, बंजी जंपिंग और स्कूबा डाइविंग जैसे स्पोर्ट्स पसंद हैं। इसके अलावा मानुषी ट्रेंड इंडियन क्लासिकल डांसर हैं और स्केचिंग और पेंटिंग भी बनाती हैं।

इस प्रतियोगिता में दूसरे नंबर पर मिस मेक्सिको जबकि तीसरे नंबर पर मिस इंग्लैंड रहीं। मिस इंडिया मानुषी छिल्लर से फाइनल राउंड में सवाल पूछा गया था कि किस प्रोफेशन में सबसे ज्यादा सैलरी मिलनी चाहिए और क्यों? इसके जवाब में मानुषी ने कहा, ‘मां को सबसे ज्यादा सम्मान मिलना चाहिए। इसके लिए उन्हें कैश में सैलरी नहीं बल्कि सम्मान और प्यार मिलना चाहिए।

आपको बता दें कि 1966 तक कोई भी एशियन महिला ने मिस वर्ल्ड का खिताब नहीं जीता था। 1966 मेडिकल फाइनल इयर की स्टूडेंट रीता फारिया भारत से पहली मिस वर्ल्ड बनी थीं। उसके बाद ऐश्वर्या राय ने 1994, डायना हेडन ने 1997 में, युक्ता मुखी ने 1999 में और प्रियंका चोपड़ा ने साल 2000 में मिस वर्ल्ड का खिताब जीता था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here