स्वामी ज्ञानानंद महाराज को सस्ते दामों में ज़मीन देना नहीं है घाटे का सौदा

0
134

न्यूज़ एनसीआर, 29 नवंबर-हरियाणा | हरियाणा खट्टर सरकार ने स्वामी ज्ञानानंद महाराज को सस्ते दामों में जमीन दी है इस पर केंद्रीय मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने सफाई दी। उन्होंने कहा कि सरकार के लिए घाटा महत्वपूर्ण नहीं है, जमीन किस कार्य के लिए दी है ये महत्वपूर्ण है।

केंद्रीयमंत्री गुर्जर ने कहा कि आने वाली पीढ़ियों को ज्ञान-संस्कार मिले, इस मकसद की वजह से सरकार ने जमीन दी है। दरअसल मनोहर लाल सरकार ने करीब नौ एकड़ भूमि प्रति एकड़ 50 लाख में खरीदकर स्वामी ज्ञानानंद महाराज जी को करीब पांच लाख रुपये प्रति एकड़ यानि कौड़ियों के भाव में दी है। जिसे लेकर सूबे की राजनीति में बयानबाजी का दौर जारी है।

केंद्रीय मंत्री गीता महोत्सव कार्यक्रम में पहुंचे थे। उन्होंने गीता जयंती समारोह के बारे में कहा कि इस कार्यक्रम से मन को खुशी मिलती है। गीता अमूल्य रतन है, गीता सार है। उन्होंने कहा कि गीता ज्ञान, संदेश, कर्मयोग के बारे में लोगों को जानकारी मिले। यही गीता जयंती समारोह का मकसद है। कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि गीता-गाय के लिए जो काम मनोहर सरकार ने किया है, वो किसी ने नहीं किया। इस काम के लिए वो बधाई के पात्र हैं। वहीं, पद्मावती विवाद को लेकर भाजपा नेता सूरजपाल अम्मू द्वारा भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला को भेजे गए इस्तीफे पर कहा कि इस बारे में अम्मू खुद या प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला ही बेहतर बता सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here