घरेलू सहायिका को किया प्रताड़ित, 11वीं मंज़िल से छलांग लगायी

0
134

न्यूज़ एनसीआर 06 अक्टूबर – फरीदाबाद | घरेलू सहायिका की तौर पर काम कर रही 12 वर्षीय बच्ची अपनी मालकिन की प्रताड़ना और शोषण से इतना परेशान हो चुकी थी के उसने 11वीं मंज़िल से छलांग लगा दी। हालांकि 10वीं मंज़िल पर बालकनी के आगे लगे जाल (जो कबूतरों को अंदर आने से रोकने के लिए लगाया जाता है) पर गिरने के कारण वह जान गंवाने से बच गई।

फरीदाबाद के सेक्टर 37 के कनिष्का अपार्टमेंट्स में काम करने वाली इस बच्ची ने बताया कि वह बिहार की रहने वाली है और इसी अपार्टमेंट के 11वीं मंज़िल पर रहने वाली स्नेहा सिंह के यहां घरेलू नौकर का काम करती है। स्नेहा B.Tech की पढ़ाई के लिए दो साल पहले फरीदाबाद आई थी और यहां कनिष्का अपार्टमेंट्स में फ्लैट में रहने लगी। उसके पिता के पटना में ईंट के भट्टे हैं। भट्टे पर काम करने वाले मजदूर की 12 वर्षीय बेटी को पिता ने स्नेहा के साथ घरेलू सहायिका के तौर पर भेजा था। बच्ची का कहना है कि कामचोरी का आरोप लगाकर स्नेहा उसे डंडे से पीटती थी।

बुधवार को उसने 11वीं मंज़िल से छलांग लगा दी लेकिन कूदने के बाद 10वीं मंज़िल पर लगे जाल में फंस गई। फ्लैट का मालिक उस वक्त जाल के पास ही मौजूद था। उसने तुरंत ही बच्ची का हाथ पकड़ उसे वहां से निकाला। बच्ची के शरीर पर चोट और जले के ढेरों निशान हैं। बच्ची की हालत देखकर उसके रोंगटे खड़े हो गए। बेहद दुबली-पतली इस बच्ची के शरीर को जगह-जगह पे जलाया गया था। उसने बताया कि उसे खाने तक को ठीक से नहीं दिया जाता था। बच्ची ने बताया कि उसे छोटी-छोटी बात पर बुरी तरह से पीटा जाता था।

फिलहाल बच्ची को धीरज नगर सेक्टर-31 स्थित शेल्टर होम में भिजवाया गया है। पुलिस ने चाइल्ड हेल्पलाइन की शिकायत पर स्नेहा के खिलाफ मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है और अदालत ने उसे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है। स्नेहा के खिलाफ बाल संरक्षण अधिनियम सहित अन्य धाराओं के तहत भी मामला दर्ज कर लिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here