आवश्यक जानकारी: मोदी सरकार मे ये 6 नए बदलाव होंगे एक अक्टूबर से लागू

0
108

न्यूज़ एनसीआर, 28 सितंबर-दिल्ली | मोदी ने भाजपा सरकार में कई नई योजनाओं को लागू किया, कुछ योजनाओं से आमजन खुश भी है और कुछ योजनाओं की वजह से जनता में नाराजगी भी है। अब 1 अक्टूबर से मोदी सरकार कुछ नए बदलाव करने जा रही है। 2017 में नियमों में सबसे बड़ा बदलाव 1 जुलाई को देखने को मिला, जब मोदी सरकार द्वारा देश भर में GST लागू किया गया। वहीँ अब एक और बड़ा बदलाव 1 अक्टूबर से होने जा रहा है। बात दें कि ये बदलाव स्‍टेट बैंक ऑफ इंडिया, जीएसटी और टेलीकॉम सेक्‍टर और टोल प्‍लाजा से जुड़े नियमों में होने जा रहा है। आईये जानते हैं कि किन नियमों में होने जा रहा है बड़ा बदलाव।

1 अक्‍टूबर से आपको नई एमआरपी यानी कि अधिकतम खुदरा मूल्‍य के साथ सामान मिलेगा। 1 जुलाई से जीएसटी लागू होने के बाद केंद्र सरकार ने व्‍यापारियों को सुविधा दी थी कि वे 30 सितंबर तक पुराने सामान पर नई एमआरपी का स्टिकर लगा कर बेच सकते हैं। 30 सितंबर को यह सुविधा खत्‍म हो जाएगी। इसके बाद अगर कोई दुकानदार नई एमआरपी का स्‍टीकर लगाकर समान बेचता है तो सरकार उसके खिलाफ कार्रवाई कर सकती है।

SBI ने मिनिमम अकाउंट बैलेंस के नियमों में बदलाव किया है। इसके तहत बैंक ने मेट्रो सेंटर्स में लिमिट 5,000 रुपए से घटा कर 3,000 की है। अब मेट्रो और अरबन सेंटर को एक ही कैटेगरी में माना जाएगा। मिनिमम बैलेंस चार्ज में भी 20 से 50 फीसदी तक कटौती की गई है। इसके साथ ही बैंक अब नाबालिगों, पेंशनर्स और सब्सिडी के लिए खोले गए अकाउंट्स पर मिनिमम बैलेंस का चार्ज वसूल नहीं करेगा। एसबीआई की ओर से कहा गया है कि इससे करीब 5 करोड़ अकाउंट होल्‍डर्स को फायदा होगा। यह नियम 1 अक्‍टूबर से लागू हो रहे हैं।

स्‍टेट बैंक ऑफ इंडिया अपने खाताधारकों से अकाउंट क्‍लोज कराने या सेटल कराने के लिए चार्ज नहीं लेगा। नए नियमों के तहत अगर अकाउंट होल्‍डर अकाउंट खुलने के 1 साल के बाद अकाउंट क्‍लोज कराता है तो उसे कोई चार्ज नहीं देना होगा। अगर किसी अकाउंट होल्‍डर की मौत हो जाती है ऐसे में उसका सेटलमेंट किया जाता है और अकाउंट बंद किया जाता है तो इस केस में कोई चार्ज नहीं लगेगा। अगर कोई एसबीआई में अकाउंट खुलने के 14 दिन के अंदर अकाउंट क्‍लोज कराता है तो उसे कोई चार्ज नहीं देना होगा। लेकिन अगर कोई व्‍यक्ति अकाउंट खोलने के लिए 14 दिन के बाद और 1 साल पूरा होने से पहले अकाउंट क्‍लोज कराता है तो उससे 500 रुपए और जीएसटी देना होगा। अब तक एसबीआई में सभी तरह के खाते बंद कराने या सेटल कराने पर 500 रुपए और GST देना होता है।

एसबीआई ने अपने पूर्व सहयोगी बैंक और भारतीय महिला बैंक के सभी ग्राहकों से अनुरोध किया है वह नए चेकों के लिए आवेदन कर दें। पुरानी चेक बुक और IFSC कोड 30 सितंबर के बाद अमान्‍य हो जाएंगे। एसबीआई में स्‍टेट बैंक ऑफ बीकानेर एंड जयपुर, स्‍टेट बैंक ऑफ हैदराबाद, स्‍टेट बैंक ऑफ मैसूर, स्‍टेट बैंक ऑफ पटियाला, स्‍टेट बैंक ऑफ त्रावणकोर और भारतीय महिला बैंक का विलय हो चुका है।

अक्‍टूबर से नेशनल हाइवे पर बने सभी टोल प्‍लाजा पर फास्‍टैग लगे वाहन बिना रुके गुजर सकेंगे। नेशनल हाइवे अथॉरिटी के अनुसार, सभी टोल प्‍लाजा पर शुक्रवार से डेडिकेटिड फॉस्‍टैग लेन तैयार हो जाएंगी। इस प्‍लेन पर ऑपरेशन भी शुरु हो गया है और फास्‍टैग लगे वाहन इस लेन से गुजर सकते हैं। टोल प्‍लाजा पर बिना रुके व्‍हीकल्‍स के गुजर जाने के मकसद से केंद्र सरकार ने पिछले साल फास्‍टैग लॉन्‍च किया था। फास्‍टैग, ऐसा टैग है जो गाड़ी के शीशे पर लगाया जाएगा और टोल प्‍लाजा पर लगी डिवाइस उसे रीड कर लेती है। फास्‍टैग को रिचार्ज कराना भी आसान है। कई बैंकों को इसके लिए अधिकृत किया गया है, जो ऑनलाइन रिचार्ज भी कर सकते हैं।

ट्राई यानी कि टेलीकॉम रेगुलेटर ने इंटरकनेक्‍शन यूजर्स चार्ज IUC में 50 फीसदी से ज्‍यादा कटौती करने का फैसला लिया है। अब मोबाइल टर्मिनेशन चार्ज 14 पैसे प्रति मिनट कर दिया गया है। इस लिहाज से इसमें 8 पैसे की कटौती हुई है। नया रेट 1 अक्‍टूबर से लागू होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here