दक्षिण कश्मीर के कुलगाम में सुरक्षाबलों पर आतंकी हमला, मुठभेड़ में मेजर समेत 2 जवान शहीद और दो आतंकी ढेर

0
90

दक्षिण कश्मीर। आज तड़के दक्षिण कश्मीर के कुलगाम में सुरक्षाबलों ने दो आतंकियों को एक मुठभेड़ में मार गिराया, जबकि साथ सटे शोपियां जिले में इसी दौरान हुई एक अन्य मुठभेड़ में एक मेजर समेत दो सैन्यकर्मी शहीद व एक अन्य जवान जख्मी हो गया। शहीद कमलेश पांडे 62 राष्ट्रीय राइफल्स में मेजर थे। आज तडक़े राज्य पुलिस के विशेष अभियान दल एसओजी और सेना की नौ आरआर जवानों के एक संयुक्त कार्यदल ने कुलगाम के गोपालपोरा के पास एक नाका लगा रखा था। सुरक्षाबलों को खुफिया जानकारी मिली कि वहां से आतंकियों का एक दल गुजरने वाला है। यह नाका एक पुलिया के पासा लगाया गया था।

तड़के करीब एक बजे तीन से चार आतंकियों का एक दल वहां से गुजरा। नाका पार्टी ने जैसे ही तीन-चार लोगों को रात के अंधेरे में आते देख चेतावनी देते हुए उन्हें रुकने व अपनी पहचान बताने को कहा। लेकिन जवाब में आतंकियों ने गोली चला दी और वापस भागने लगे। नाका पार्टी ने भी जवाबी कार्रवाई। इसके बाद वहां करीब एक घंटे तक गोलियां चली। दिन निकलने पर जब जवानों ने स्तिथि की जायजा लिया तो देखा की २ आतंकी ढेर हो चुके थे, और दो आतंकी फरार होने में कामयाब हो गए थे। और इस मुठभेड़ में अपने सुरक्षाकर्मियों में से एक मेजर और दो सैन्यकर्मी शहीद और एक जवान घायल हो चुके थे। अधिकारी ने बताया कि घायलों को सेना के अस्पताल में भर्ती करवाया गया जहां एक मेजर और एक जवान की मौत हो गई। वहीं घायल जवानों का इलाज जारी है। उन्होंने बताया कि जायपोरा में खोज अभियान जारी है।

इलाके में स्तिथि ख़राब होने की वजह से मोबाइल और इंटरनेट सेवाएं पूरी तरह से बंद कर दी गई हैं। सेना और पुलिस के संयुक्त ऑपरेशन के दौरान तीन हथियार भी मिले हैं। इनमें से एक हथियार साल 2016 में अक्टूबर में लूटा गया था। एसएसपी श्रीधर पाटिल ने बताया कि मारे गए दोनों आतकी हिजबुल के हैं और ये घाटी में कई वारदातों में शामिल थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here