“दरोगा जी चोरी हो गई” नाट्य प्रस्तुति से की भौतिकतावाद पर चोट 

0
129
फरीदाबाद। हरियाणा स्वर्ण जयंती के उपलक्ष्य में हरियाणा कला परिषद के मल्टी आर्ट कल्चर सेंटर कुरुक्षेत्र के सहयोग से ब्रज नट मंडली द्वारा किए जा रहे तीन दिवसीय रंग-तरंग नाट्य महोत्सव के प्रथम दिवस “दरोगा जी चोरी हो गई” नामक नाटक का शानदार मंचन फरीदाबाद नगर निगम सभागार में किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में डिप्टी मेयर मनमोहन गर्ग, एसीपी क्राइम राजेश चेची, सामाजिक कार्यकर्ता विनोद भाटी, 5-भाई साबुन के संस्थापक जगत मदान, रोटेरियन जगदीश सहदेव एवं ब्लॉक समिति के मेंबर और बृज नट मण्डली के सलाहकार राजकुमार “गोगा”आदि उपस्थित रहे।
नाटक में मुख्य कलाकार की भूमिका में मुरारी ने अभिनय किया।  वहीँ दरोगा की भूमिका बृज मोहन भारद्धाज ने निभाई। इसके साथ ही लोकेश यादव, रुचिका और अमर चंद पांडे ने नाटक में उच्च कोटि का अभिनय कर दर्शकों को मन्त्र मुग्ध कर दिया। नाटक में म्यूजिक आकाश शर्मा और नितिन सरताज़ ने दिया।
“दरोगा जी चोरी हो गई” नामक नाटक मुख्य रूप से आजकल के भटके हुए युवाओं पर आधारित है, जो भौतिकवाद के दिखावे में आकर पथ भ्रष्ट हो जाते हैं। अनेक घटनाओं से होते हुए और दर्शकों को गुदगुदाते हुए नाटक में अनेक मोड़ आते हैं। नाटक के अंत में दरोगा जी अपने माता-पिता के सपनों को साकार करने की सीख देते हैं। इसके साथ ही दरोगा जी भौतिकतावाद से दूर रहने की अपील करते हुए नाटक का समापन करते हैं।
कार्यक्रम के अंत में मुख्य अथितियों द्वारा बृज नट मंडली के नाट्य कलाकारों को स्मृती चिन्ह भेंट किया गया। इसके पश्चात बृज नट मण्डली के अध्यक्ष बृज मोहन भारद्धाज, धीरज हिन्दुस्तानी एवं राजकुमार गोगा ने मुख्य अथितियों को स्मृति चिन्ह भेंट कर उनका आभार प्रकट किया। नाटक की शानदार प्रस्तुति पर खुश होकर सभागार में उपस्थित सभी दर्शकों ने तालियों से कलाकारों का उत्साहवर्धन किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here