जानिये क्या है “GST”

0
57

फरीदाबाद। जीएसटी जिसे “गुड्स एंड सर्विस टैक्स” यानि वस्तु एवं सेवा कर के नाम से भी जाना जाता है। भारत सरकार ने 3 अगस्त 2016 को देश में जीएसटी बिल पारित किया था और 1 अप्रैल 2017 से विशेष क्षेत्रों में इसे लागू करने का निर्णय लिया। सरकार का कहना है की इससे टैक्स देने वालों को काफी सुविधा मिलेगी। देश के कर संबंधी ढाँचे में स्वतंत्रता के बाद यह सबसे बड़ा सुधार है, जिसका फायदा आम आदमी को होगा। इस बिल को लोक सभा द्वारा मई 2015 व राज्यसभा द्वारा 3 अगस्त, 2016 को पारित किया जा चुका है।

टैक्स की दरों पर क्या होगा प्रभाव

GST बिल के अंतर्गत टैक्स की दरें कम हो जाएँगी। और साथ ही करदाताओं की संख्या भी लगभग 5 से 6 गुना तक बढ़ जाएगी। टैक्स का दायरा बढ़ने से सरकार की आय में भी वृद्धि होगी इसी कारण इस टैक्स से राज्य या केंद्र सरकार पर कोई भी नकारात्मक प्रभाव नहीं पड़ेगा। चूँकि कर की दरें सभी जगह एक समान ही होंगी।

GST से होने वाले लाभ

GST लागू होने से टैक्स चोरी में कमी आएगी।
GST से कम विकसित राज्यों को भी अधिक आय की प्राप्ति होगी।
GST से छोटे व्यवसायों को भी सहयोग प्राप्त होगा और क्षेत्रीय पक्षपात भी ख़त्म होंगे।
GST के लागू होने से लगभग सभी वस्तुओं के दाम देश में एक समान ही होंगे।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here